आठ लोगों की मौत, 10 घायल

0
351

चंपावत/देहरादून। बाराकोट विकासखंड में मिरतोली से रामेश्वर घाट शवदाह को ले जा रही मैक्स पिकअप वाहन लीशा डिपो के पास बसान क्षेत्र में करीब 300 मीटर गहरी खाई में गिर गया। हादसे में 8 लोगों की मौत हो गई, जबकि 10 लोगों घायल हो गए। घायलों को हेलीकॉप्टर से एसटीएच हल्‍द्वानी भेज गया है। मौके पर पहंुची पुलिस ने मृतकों के शव का पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। सीएम ने दुर्घटना पर गहरा दुख व्यक्त किया। पुलिस के अनुसार, बाराकोट के मिरतोली निवासी शेर सिंह भंडारी की पत्नी खीमा देवी (65 वर्ष) की शनिवार को मौत हो गई थी। जिनका शव लेकर गांव के 20 लोग मैक्स पिकअप वाहन से रामेश्वर घाट अंतिम संस्कार करने जा रहे थे। रविवार दोपहर करीब 12 बजे वाहन बसान के पास खाई में गिर गया। हादसे में आठ लोगों की मौत हुई, जबकि 10 लोगों का उपचार किया जा रहा है। वाहन में सवार गणेश सिंह बिष्ट (40 वर्ष) पुत्र बद्री सिंह ने बताया कि वहन के गिरते ही वह कूद गए थे, जिससे उनकी जान बच गई। उसने ही सभी को घटना की सूचना दी। पुलिस, एसएसबी, आईटीबीपी व स्थानीय लोगों की मदद से लोगों को खाई से निकाला गया। केंद्रीय मंत्री अजय टम्टा, विधायक पूरन फर्त्याल ने लोगों का हाल चाल जाना। विधायक पूरन फर्त्याल ने कहा कि मृतक परिवार के साथ सरकार की संवेदना है। मृतकों के पोस्टमार्टम घटनास्थल पर होंगे। इसके लिए डीएम ने सीएमओ को आदेश दे दिए है। रामेश्वर घाट पर मृतकों के अंतिम संस्कार के लिए लकड़ी की भी व्यवस्था के लिए देलें को बोल दिया गया है। मृतकों में तारा दत्त जोशी (42 वर्ष) पुत्र नाणारायण दत्त, कृष्णा चंद्र जोशी (44 वर्ष) पुत्र हेतराम, खि‍लानंद बहुगुणा (50 वर्ष) पुत्र जोगदत्त बहुगुणा, प्रकाश सिंह (35 वर्ष) पुत्र कुंवर सिंह, त्रिलोक सिंह (40 वर्ष) पुत्र कल्याण सिंह सभी निवासीगण मिरतोली, दलीप सिंह (36 वर्ष) पुत्र कल्याण सिंह निवासी बाराकोट पुनई शामिल हैं, दो शवों की अभी शिनाख्त नहीं हो पाई है। मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने वाहन दुर्घटना पर गहरा दुख व्यक्त किया है। उन्होंने हादसे में मृतकों की आत्मा की शांति व शोक संतप्त परिवारजनों को धैर्य प्रदान करने के साथ ही घायलों के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की ईश्वर से कामना की है। मुख्यमंत्री ने घायलों के ईलाज के लिए समुचित व्यवस्था किए जाने के निर्देश दिये हैं। मुख्यमंत्री ने मृतक आश्रितों को रू0 1 लाख एवं गम्भीर घायलों को रू0 50 हजार की अनुमन्य राशि शीघ्र उपलब्ध कराने के निर्देश भी दिये हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here