वृक्षमित्र संग स्वयंसेवियों ने दी पुलवामा शहीदों को श्रंद्धाजलि।

0
511

वृक्षमित्र संग स्वयंसेवियों ने दी पुलवामा शहीदों को श्रंद्धाजलि।
टिहरी: वृक्ष मित्र अभिनय के तहत पर्यावरणविद वृक्षमित्र डॉ त्रिलोक चंद्र सोनी के नेतृत्व में राइका मरोड़ा(सकलाना) के राष्ट्रीय सेवा योजना स्वयंसेवियों ने कश्मीर के पुलवामा में हुए मानव आत्मघाती हमले में शहीद हुए सीआरपीएफ के जवानों को दो मिनट का मौन रखकर भावभीनी श्रद्धांजलि दी जिसमे एनएसएस स्वयंसेवियों के साथ छात्र छात्राओं, शिक्षक शिक्षिकाएं सम्मलित हुए।
पुलवामा में शहीद हुए सीआरपीएफ के जवानों को श्रद्धांजलि देते हुए पर्यावरणविद वृक्षमित्र डॉ त्रिलोक चंद्र सोनी ने कहाकि देश के सीमा प्रहरी शहीद जवानों का बलिदान खाली नही जायेगा। इस घटना से पूरा देश क्षुब्ध के साथ आक्रोश में हैं। क्षुब्ध दिल से डॉ सोनी ने कहा कब थमेगा कश्मीर की आतंकी हमले, कबतक होती रहेगी खाली किसी माँ बाप का घर आंगन, कबतक मिटती रहेगी किसी पत्नी का सिंदूर, कबलक इंतजार करते रहेंगे बच्चे अपने पापा के गोदी में बैठकर लाड़ प्यार व कहानियां सुनने का, कबतक करते रहेगी कोई बहिन भाई की कल्हाई पर रक्षाबंधन बाधने का इंतजार, कबतक करता रहेगा कोई भाई अपने भाई के राह का इंतजार, कबतक देखती रहेगी कोई बहिन अपने भाई से अपने शादी की शॉपिंग का सपना, कबतक इंतजार करता रहेगा गांव का दोस्त अपने दोस्त का। कबतक सताते रहेगी गांव व रिस्तेदारो को फौजी होने की पीड़ा व चिंता। कबतक बुझता रहेगा देश के कुर्बानी के नाम पर घर का चिराग, क्यो नही निकलता कश्मीर का स्थाई समाधान क्या ऐसी मजबूरी हैं जिसके लिए कुर्बानी देते रहेंगे सैना के जवान, कही ऐसा न होकि आनेवाले समय में सैना में जाने के लिए युवाओ को दस बार सोचना पड़े। डॉ सोनी ने देश के बुद्धिमानो व भारत सरकार से जल्द से जल्द कश्मीर जो एक नाशूर बना है उसका इलाज करने का अनुरोध किया है उन्होंने कहा जिसदिन कश्मीर समस्या का समाधान निकल जायेगा वही दिन इन बीर शपूतो की बलिदानी का सच्ची श्रद्धांजलि होगी। वृक्षमित्र ने पुलवामा में शहीद हुए जवानो के लिए 14 फरवरी एक दिन का वेतन देने का निर्णय लिया है और कहा मेरी पत्नी शकुंतला सोनी जो राजकीय कन्या उच्चतर माध्यमिक विद्यालय हाथीबड़कला,देहरादून में सहायक अध्यापिका के पद पर कार्यरत हैं वे भी अपना एक दिन का वेतन शहीदों के परिवार को देंगे, श्रद्धांजलि कार्यक्रम में नवीन भारती, राजेंद्र रावत, कुलदीप चौधरी, ऋषिवाला चौधरी, तेजी महर, शशि ड्यूडी, राकेश सिंह, मनीषा नेगी, नारायण सिंह, यशपाल सिंह, महेश, राहुल, हिमांशी, जमना, पायल, सुरजा, कविता।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here