चैत्र नवरात्र छह अप्रैल से

0
402

देहरादून। चैत्र नवरात्र इस बार छह अप्रैल से शुरू हो रहे हैं। नवरात्र के दिनों मां दुर्गा के नौ स्वरूपों की पूजा होती है। 14 अप्रैल को नवमी मनाई जाएगी। ज्योतिषाचार्य गौरव आर्य ने बताया कि इस साल छह अप्रैल से चैत्र नवरात्र शुरू हो रहे हैं। शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा तिथि के दिन अभिजीत मुहूर्त में सुबह 6रू09 बजे से लेकर 10रू19 बजे के बीच घट स्थापना करना बेहद शुभ होगा। मां दुर्गा भक्तों की मनोकामनाएं पूर्ण करने वाली हैं। चैत्र नवरात्र के मौके पर नौ दिनों में अलग-अलग रंगों से मां की आराधना करने से मां दुर्गा अपने भक्तों की हर मनोकामना पूरी करेगी। ज्योतिषाचार्य गौरव आर्य ने कहा कि पहले दिन लाल या हरे रंग के कपड़े पहनकर माता की पूजा करने से विशेष लाभ मिलेगा। जबकि दूसरे दिन पीला या सुनहरे रंग के कपड़े पहनकर माता की पूजा करें।तीसरे दिन सफेद या गुलाबी रंग के कपड़े पहनकर माता करना लाभकारी होगा। नवरात्र के चैथे दिन आसमानी या जामुनी रंग के कपड़े पहनकर माता की पूजा करना शुभ होगा। पांचवें दिन नारंगी रंग के कपड़े पहनकर माता की पूजा करने से विशेष लाभ मिलेगा।छठवें दिन नीला या क्रीम रंग के कपड़े पहनकर माता की पूजा करने से मां को प्रसन्न किया जा सकता है। सातवें दिन लाल या सफेद रंग के कपड़े पहनकर माता की पूजा करना भी लाभकारी होगा। आठवें दिन हल्का हरा या पीले रंग और नौंवें दिन पीला या लाल रंग के कपड़े पहनकर माता की पूजा करने से विशेष लाभ मिलेगा। ज्योतिषाचार्य शास्त्री संदीप कोटनाला ने बताया कि नवरात्र में श्रद्धालु ज्यादातर भगवती दुर्गा की ही आराधना करते है। उन्होंने कहा कि नवरात्र में उपवास रखने से स्वास्थ्य उत्तम और बुद्धि निर्मल रहती है। कोटनाला ने कहा कि उपवास के दौरान केवल फलों का रस ही ग्रहण करना चाहिए। इससे निर्मल बुद्धि एवं आरोग्यता की प्राप्ति होती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here