चारधाम यात्रा के दौरान अगर लगा जाम, तो पुलिसकर्मी होंगे सस्पेंड

0
263

देहरादून। हर साल चारधाम यात्रा के समय हरिद्वार के सिंह द्वार से लेकर तपोवन तक लगने वाले ट्रैफिक जाम से हजारों तीर्थयात्रियों को दिक्कतों को सामना करना पड़ता है। चारधाम यात्रा के दौरान लगने वाले जाम से लोगों को निजात दिलाने के लिए इस बार पुलिस मुख्यालय की तरफ से अधिकारियों को सख्त निर्देश दिए गए हैं। आपको बता दें कि ट्रैफिक व्यवस्था को सुचारू रखने के लिए थाना-चैकी पुलिस के साथ ही मार्गों को सेक्टर जोन में बांटकर बाई नेम पुलिस कर्मियों की विशेष ड्यूटी लगाई गई है। साथ ही हाईवे पर सड़क सुरक्षा के तहत देहरादून एसपी ट्रैफिक व एसपी देहात को हरिद्वार एसपी के साथ सामंजस्य बनाने की जिम्मेदारी दी गई है। साथ ही रायवाला व ऋषिकेश मार्ग पर लंबे समय तक ट्रैफिक जाम रहने पर जिम्मेदार पुलिसकर्मियों को संस्पेंड करने के भी आदेश दिए गए हैं। वहीं चारधाम यात्रा के दौरान 252 दुर्घटनाग्रस्त क्षेत्रों को चिह्नित कर डेंजर जोन में रखा गया है। साथ ही इन संभावित दुर्घटना प्रभावित क्षेत्रों में एहतियातन विशेष पुलिस टीम को सुरक्षा के दृष्टिगत तैनात किया जा रहा है। साथ ही बोर्ड और होर्डिंग्स के जरिए डेंजर जोन के प्रति लोगों को जागरूक करने का कार्य किया जा रहा है. वहीं धर्म नगरी हरिद्वार और ऋषिकेश सहित कई संवेदनशील स्थानों में होने वाली गतिविधियों पर नजर रखने के लिए 80 सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं। वहीं महानिदेशक अशोक कुमार ने बताया कि नेशनल हाईवे चैड़ीकरण के चलते सड़क सुरक्षा व यातायात प्रभावित होना सबसे बड़ी चुनौती है। हाईवे पर चल रहे निर्माण कार्यों के चलते कई जगह रास्ते सकरे व बदहाल स्थिति में हैं। जिसके चलते यात्रा को सुचारू रूप से बहाल रखना एक बड़ी समस्या है। हालांकि इसके लिए भी पुलिस बल को संवेदनशील स्थानों में तैनात कर सुरक्षित यात्रा व्यवस्था बनाने के दिशानिर्देश दिए गए हैं। साथ ही उन्होंने कहा कि अपनी जिम्मेदारी ना निभाने वाले पुलिसकर्मियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई सुनिश्चित की जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here