पूरे जून के महीने करेगी गर्मी बेहाल,मानसून जुलाई में आने की आशंका

0
274

देहरादून। मौसम विभाग ने इस बार मानसून के लगभग 10 दिन देर से उत्तराखण्ड में आने की आशंका जताई है। इससे साफ जाहिर होता है कि पूरे जून के महीने में गर्मी लोगों को बेहाल करने का काम करेगी।
गर्मी से उत्तराखंड के भी मैदानी क्षेत्र इससे अछूते नहीं हैं। जहां एक ओर पर्वतीय क्षेत्रों में मौसम सुहावना बना हुआ है तो वहीं मैदानी क्षेत्रों में सूरज आग उगल रहा है। गर्मी की वजह से लोग घरों से निकलने में कतरा रहे हैं।
मौसम केंद्र निदेशक बिक्रम सिंह के अनुसार प्रदेश में अगले कुछ दिन हल्के बादल छाये रह सकते हैं। साथ ही उन्होंने कहा कि बादल छाए रहने से तापमान में ज्यादा असर पड़ने के आसार नहीं हैं। वहीं पर्वतीय क्षेत्रों में हल्की बारिश हो सकती है जबकि राज्य के शेष स्थानों में मौसम शुष्क रहने की संभावनाएं हैं। बात करें उत्तराखंड के पर्वतीय क्षेत्रों की तो सीमांत जिला मुख्यालय पिथौरागढ़, अल्मोड़ा और चंपावत में मौसम सामान्य बना हुआ है।
वहीं पर्यटक सीजन होने से यहां काफी संख्या में सैलानी मौसम का लुत्फ उठाने पहुंच रहे हैं। वहीं पहाड़ों की रानी कहे जाने वाली मसूरी में पर्यटक सीजन पीक पर है। गर्मी से बचने के लिए लोग मसूरी का रुख कर रहे हैं। आमतौर पर प्रदेश में मानसून 27-28 जून तक दस्तक दे देता है, लेकिन इस बार मानसून आठ जुलाई तक आने की संभावना जताई जा रही है। इसलिए लोगों को कुछ दिनों तक चिलचिलाती गर्मी का सामना करना पड़ सकता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here