चारधाम यात्रा मार्गों पर पहली बार देखनेे को मिल रहा इतना भीषण जाम

0
361

देहरादून। यात्रा सीजन शुरू होते ही यात्रा मार्गो पर भीषण जाम देखने को मिल रहा है। चारधाम यात्रा मार्ग पर देवप्रयाग में सुबह आठ बजे से वाहन रेंगने को मजबूर हैं। वहीं गंगा दशहरे से दो दिन पहले ही हरिद्वार में श्रद्धालुओं के आगमन से हाईवे में जाम लग रहा है। भरी गर्मी में श्रद्धालुओं को घंटों जाम में जूझना पड़ रहा है। इन दिनों उत्तराखंड के बढ़ी पर्यटकों की आमद से चारधाम, हरिद्वार, नैनीताल और मसूरी मार्ग में भंयकर जाम लग रहा है। देवप्रयाग में तीन धरा से ब्यासी के बीच 22 किमी. तय करने में दो घंटे से ज्यादा का समय लग रहा है।
यहां शनिवार सुबह तोता घाटी के पास एक ट्रक फंसने कारण सुबह 8 बजे से ट्रैफिक धीरे-धीरे चल रहा है। वहीं 12 जून को होने वाले गंगा दशहरे के दो दिन पहले से ही हरिद्वार में श्रद्धालुओं का आना शुरू हो गया है। जिस वहज से यहां भी हाईवे में लगातार जाम लग रहा है। वहीं अगर राजधानी देहरादून की बात करें तो वह भी जाम से झाम से अछूती नहीं है। यहां मसूरी रोड, आढ़त बजार ;भूसा स्टोर से घंटा घर और डोईवाला में लोग बार-बार जाम में फंस रहे हैं। लगातार बढ़ती तीर्थयात्रियों व पर्यटकों की भीड़ के चलते चारधाम यात्रा हांफने लगी है। हालत यह है कि चारधाम यात्रा मार्ग के लगभग सभी मुख्य मार्गों पर मीलों लंबा जाम लग रहा है। शनिवार को चारों धमों को जाने वाले हाईवे वाहनों से पटे रहे। दो से तीन घंटे जाम में फंसे होने के चलते पर्यटकों को भी खासी दिक्कतों का सामना पड़ा। यहीं नहीं मसूरी और कुमाऊं में नैनीताल के अलावा तमाम पर्यटक स्थलों पर शनिवार को दिनभर जाम लगा रहा है। ऋषिकेश में वीकेंड पर शहर में हमेशा की तरह लोगों को जाम से जूझना पड़ा। चार धाम और हेमकुंड साहिब यात्रा भी साथ ही चलने से कई किलोमीटर लंबा जाम लग गया। हाईवे पर दिन भर वाहन रेंगते रहे। आलम यह था कि चीला बैराज रूट पर भी वाहनों की लंबी लाइन लगी रही। जाम खुलवाने में पुलिस के पसीने छूट गए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here