तीर्थनगरी में भूमाफिया का आतंक, प्रशासन लाचार

0
311

देहरादून। दून के बाद अब बाहरी क्षेत्रों में भी भूमाफिया का आतंक फैलने लगा है। जिससे लोगों को अब जानमाल का खतरा सताने लगा है। प्रशासन की ढुलमुल नितियों के चलते लोग दहशत के साए में जीने को मजबूर है। तीर्थनगरी मेंः भू-माफिया के आतंक के चलते दिव्यांग का परिवार जान जोखिम में डालकर रहने को मजबूर है। दिव्यांग के घर के बगल में भू माफिया ने नियमों को ताक पर रखकर खुदाई कर दी। जिसकी वजह से घर की नींव हिल गई और मकान आधा टूटकर गिर गया है. वहीं, बाकी के घर में दरार पड़ गई है. दिव्यांग ने इस मामले में अधिकारियों से गुहार लगाई. लेकिन दिव्यांग की कोई सुनने वाला नहीं है। गंगानगर के सोमेश्वर नगर में रहने वाले दिव्यांग ज्ञान प्रकाश का परिवार इन दिनों खौफ के साए में जीने को मजबूर है। आपको बता दें कि एक भू-माफिया द्वारा फरवरी माह में दिव्यांग के घर के बगल में खुदाई करनी शुरू की. 20 फीट की गहरी खुदाई करने के करण ज्ञान प्रकाश के घर की नींव हिल गई। जिसकी वजह से उसका आधा घर ढह गया और बाकी के घर में मोटी-मोटी दरारें पड़नी शुरू हो गईं। ज्ञान प्रकाश ने बताया कि खुदाई करने वाले व्यक्ति जिसका नाम राम कुमार कश्यप और काकी कश्यप है। उन्होंने खुदाई के समय आश्वासन दिया था कि आपके घर में जितने भी क्षति पहुंचेगी। उसकी भरपाई उनके द्वारा की जाएगी। लेकिन खुदाई के बाद कोई भी पूछने नहीं आया.आलम यह हो गया है कि घर में पड़ी दरारें दिव्यांग के परिवार को डरा रही हैं। दिव्यांग का कहना है कि अब जब भी खुदाई करने वाले रामकुमार कश्यप और काके कश्यप से मरम्मत की बात की जाती है तो वे लोग भद्दी- भद्दी गालियां और धमकी देते हैं। वहीं, ज्ञान प्रकाश की पत्नी ने बताया कि जब कभी बारिश और हवा चलती है तो वह अपने छोटे बच्चे और पति के साथ बाहर बैठकर रात बिताती हैं। क्योंकि इस समय घर की हालत ये हो गई है कि घर कभी भी ढह सकता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here