पुस्कालय के लिए चंदे में मांगे जा रही पुस्तकें

0
250

ऋषिकेश। नगर के ग्रामसभा खदरी खड़क माफ में सामाजसेवियों की मदद से क्षेत्र में पुस्तकालय का खाका तैयार किया गया है। इस पुस्तकालय की स्थापना के लिए आर्थिक मदद न लेकर नई और पुरानी पुस्तकों को चंदे के रूप में लिया जा रहा है। वहीं, समाज सेवी विनोद जुगलान ने बताया कि प्रतियोगी अभ्यर्थियों को गहन अध्ययन के लिए पुस्तकें उपलब्ध कराने के मकसद से इस पुस्तकालय को खोला गया है। उन्होंने कहा कि ग्राम खदरी निवासी शिक्षक मायाराम रयाल स्थानीय निर्धन छात्र-छात्राओं को प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए निशुल्क प्रशिक्षण देते हैं। लेकिन अधिकांश पुस्तकें उपलब्ध नहीं होने के कारण उन्हें असुविधा का सामना करना पड़ता है। ऐसे में पुस्तकों को जुटाकर पुस्तकालय खोलने का प्रयास किया जा रहा है। विनोद ने बताया कि सोशल मीडिया पर पुस्तकों के चंदे का पोस्ट डाला गया, जिसके बाद भारतीय सेना के सूबेदार सुरेश पयाल खुद पुस्तकें भेंट करने खदरी आ पहुंचे। इसी क्रम में पुस्तकें दान करने वालों में सांसद प्रतिनिधि संजीव चैहान समेत अन्य लोगों भी शामिल हैं। उन्होंने बताया कि निशुल्क सार्वजनिक पुस्तकालय की स्थापना के लिए चंदे में किसी प्रकार का धन न लेकर सिर्फ पुस्तकें मांगी जा रही हैं। समाजसेवी विनोद शुक्ला ने बताया कि अभी तक उनके पास 1000 से अधिक पुस्तकें पहुंच चुकी हैं। इसके अलावा उनके दूसरे साथी मायाराम रियाल के पास भी लगभग 1000 से 1500 पुस्तकें हैं. उन्होंने कहा की ग्राम प्रधान ने पुस्तकालय से लिए जगह देने की सहमति भी जताई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here