आनन्द बर्धन को चुकाना होगा न्यायालय की शान में गुस्ताखी का खामियाजाः मोर्चा

0
221
विकासनगर। जनसंघर्ष मोर्चा अध्यक्ष एवं जी0एम0वी0एन0 के पूर्व उपाध्यक्ष रघुनाथ सिंह नेगी ने कहा कि प्रमुख सचिव आनन्द बर्धन जो कि कुंभ घोटाले के मास्टरमाइंड रह चुके हैं, ने न्यायालय की शान में गुस्ताखी कर न्याय के मन्दिर की अवमानना की है।
यहां आयोजित पत्रकार वार्ता के दौरान श्री नेगी ने कहा कि सेवानिवृत्त सिंचाई विभग के कार्मिकों की पेंशन मामले में उच्च न्यायालय व उच्चतम न्यायालय ने पेंशन देने के आदेश जारी किये थे, जिस पर ?आनन्द बर्धन द्वारा जानबूझकर रोड़ अटकाने की दिशा में प्रयास किया गया था। शासन की टीपों में आनन्द बर्धन द्वारा स्वयं की गयी नोटिंग में हाईकोर्ट व सुप्रीम कोर्ट के सम्बोधन में कहीं भी ‘‘माननीय’’ शब्द का प्रयोग नहीं किया गया, जिससे क्षुब्ध होकर मोर्चा के जिला मीडिया प्रभारी प्रवीण शर्मा ने अपै्रल 2019 में मुख्य सचिव से उक्त मामले में शिकायत की थी। मुख्य सचिव ने निर्देश पर कार्मिक विभाग ने जून 2019 में कार्यवाही शुरू कर दी है। उक्त मामले में निश्चित तौर पर गैर जिम्मेदार अधिकारी आनन्द बर्धन को सबक मिलेगा। उक्त मामले में सूचना आयोग भी फटकार लगा चुका है। वर्ष 2010 के महाकुंभ में मेलाधिकारी रहते हुए करोड़ों रूपये ठिकाने लगाने का कार्य उक्त अधिकारी द्वारा किया गया था, जिसका कैग की रिपोर्ट में भी उल्लेख है। मोर्चा भ्रष्ट एवं गैर-जिम्मेदार अधिकारियों को बिल्कुल नहीं छोड़ेगा। पत्रकार वार्ता में दिलबाग सिंह, प्रवीण शर्मा पीन्नी आदि थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here