बिंदाल व रिस्पना नदियों के उफान पर होने से कई बस्तियों को खतरा

0
268

देहरादून। सूबे के सभी जिलों में रात भर से बारिश जारी है और इस वजह से राज्य की नदियां, गदेरे उफान पर हैं। कई जगह बादल फटने जैसी घटनाएं भी सामने आई हैं। वहीं देहरादून के बीच से बहने वाली रिस्पना और बिंदाल नदियां भी उफान पर आ गई हैं। इससे इन नदियों के कैचमेंट एरिया में बसी बस्तियों पर खतरा मंडरा रहा हैं। क्योंकि मौसम विभाग ने अगले दो-तीन दिन राज्य में भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है। आम तौर पर कूड़ेदान की तरह इस्तेमाल होने वाली रिस्पना नदी साल के इन चंद दिनों में नदी जैसी जैसी दिखती है। भले ही पानी मटमैला हो लेकिन इसका स्वरूप नदी का ही होता है। रिस्पना में पानी आने के बाद पुल के नीचे से गुजरने वाला रास्ता बंद हो गया और यहां से आने के लिए पहुंचे लोगों को अटकना जा पड़ा। पानी की ताकत का अंदाजा न होने की वजह से यह गाड़ी पानी में ही फंस गई। रिस्पना में अचानक पानी आ जाने की वजह से एक जानवर भी फंस गया था। दसेक मिनट की हिचक के बाद इसने किनारे पर जाने की कोशिश की तो रिस्पना इसे बहा ले गई। करीब आधे किलोमीटर तक वह बहता रहा। फिर इसकी कोशिशें रंग लाईं और ये पार निकल पाया। नैनीताल हाईकोर्ट रिस्पना के कैचमेंट एरिया में बसी इन अवैध बस्तियों को हटाने का आदेश दे चुका था। लेकिन वोटबैंक की खेती कहे जाने वाली इन बस्तियों को हटाने के लिए राज्य सरकार ने पिछले साल ही अध्यादेश लाकर तीन साल का समय ले लिया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here