भ्रष्टाचार किसी भी रूप में बर्दाश्त नहीं : सीएम

0
296

देहरादून। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने स्वतंत्रता दिवस की पूर्व संध्या पर कहा कि राज्य सरकार भ्रष्टाचार के खिलाफ कड़ा कानून लाने जा रही है। भ्रष्ट गतिविधियों में शामिल और अपने दायित्वों के प्रति लापरवाह अधिकारियों व कार्मिकों को चिह्नित कर अनिवार्यत: सेवानिवृत्ति दी जाएगी। सरकारी विभागों में आउटकम आधारित डिलीवरी सुनिश्चित करने के लिए सीएम डैशबोर्ड ‘‘उत्कर्ष’ बनाया गया है। आम जन को अपनी शिकायत या समस्या के निस्तारण के लिए भटकना न पड़े, इसके लिए सीएम हेल्पलाइन 1905 पर शिकायत दर्ज की जा सकती है। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार उत्तराखंड को भ्रष्टाचार मुक्त व्यवस्था देने व हर उत्तराखंडी के जीवन में खुशहाली लाने का हरसम्भव प्रयास कर रही है। कोशिश है कि इनकम इंडेक्स के साथ हैप्पीनेस इंडेक्स में उत्तराखंड आगे रहे। एक भारत-श्रेष्ठ भारत के लिए सभी को आगे आना होगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि भारत सरकार के सहयोग से ऑल वेदर रोड़ व भारतमाला योजना पर तेजी से काम चल रहा है। देहरादून में डाट काली मंदिर के पास दो-लेन सुरंग, मोहकमपुर व अजबपुर और हरिद्वार में डौसनी में आरओबी को निर्धारित समय अवधि से पूर्व ही बनाकर यातायात के लिए शुरू कर दिया गया है।
मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने प्रदेशवासियों को स्वतंत्रता दिवस की 72वीं वर्षगांठ पर बधाई और शुभकामनाएं दी हैं। स्वतंत्रता दिवस की पूर्व संध्या पर जारी अपने संदेश में मुख्यमंत्री ने स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों, देश रक्षा में सर्वोच्च बलिदान देने वाले सेना के जवानों व उत्तराखंड राज्य निर्माण के अमर शहीदों को नमन करते हुए कहा कि सबका साथ, सबका विकास व सबका विास से हमें नए भारत का निर्माण करना है। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उत्तराखंड को सैन्यधाम की संज्ञा दी है। प्रदेश सरकार शहीद सैनिकों के परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी में समायोजित कर रही है। प्रदेश में आपदा से जन-धन की हानि हुई है। प्रभावितों को हरसम्भव मदद पहुंचाई जा रही है। मुख्यमंत्री ने कहा कि इस बार के स्वतंत्रता दिवस पर देश में विशेष उत्साह व उल्लास का वातावरण है। जम्मू-कश्मीर के भाई बहनों को धारा 370 से आजादी मिली है। प्रदेशवासियों की ओर से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह को इसके लिए बधाई देते हुए कहा कि अब जम्मू-कश्मीर के लोग मुख्य धारा में शामिल होकर विकास की नई इबारत लिख सकेंगे। एक देश, एक विधान व एक निशान का संकल्प साकार हुआ है। मुख्यमंत्री ने कहा कि तत्काल तीन तलाक पर रोक के कानून से मुस्लिम महिलाओं को शोषण से आजादी मिली है। महिला सशक्तिकरण की दिशा में ये बझ कदम है। चंद्रयान का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि छह सितम्बर का दिन ऐतिहासिक होगा, जब भारत का चंद्रयान चंद्रमा पर उतरेगा। हम सभी इसके साक्षी बनेंगे।मुख्यमंत्री ने कहा कि एक छोटा पर्वतीय राज्य होने पर भी उत्तराखंड न केवल देश की इकोलॉजी बल्कि देश की इकोनॉमी में भी अहम् योगदान कर रहा है । हाल ही में सम्पन्न हिमालयन कॉन्क्लेव में 11 हिमालयी राज्यों द्वारा पर्यावरण व जैवविविधता के संरक्षण के साथ देश की समृद्धि में योगदान के लिए ‘‘मसूरी संकल्प’ पारित किया गया। उन्होंने कहा कि जीरो टॉलरेंस ऑन करप्शन, कार्य-संस्कृति में सुधार और युवाओं को रोजगार प्रदेश सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here