कॉलेजों में चुनाव अधिकारी से अभद्रता, छात्रों पर लाठीचार्ज

0
294

देहरादून। छात्र संघ चुनाव से पूर्व डीएवी कॉलेज में माहौल गर्माता जा रहा है। कॉलेज में एबीवीपी और एनएसयूआइ का सरकार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन चल ही रहा था कि सत्यम-शिवम संगठन के छात्रों ने नया ही कारनामा कर डाला। संगठन के सदस्यों ने कॉलेज के मुख्य चुनाव अधिकारी डॉ. गोपाल क्षेत्री के अभद्रता कर दी और परिसर में हंगामा हो गया। इसके बाद पुलिस ने छात्रों पर लाठियां भांजकर उन्हें कॉलेज से खदेड़ा। इससे कई छात्रों को चोटें भी आईं।
पुलिस कार्रवाई के बाद कॉलेज में मौजूद एनएसयूआइ, आर्यन, सत्यम-शिवम, दिवाकर गुट आदि छात्र संगठनों व छात्र नेताओं ने जमकर हंगामा काटा और मुख्य नियंता कार्यालय में जमकर नारेबाजी की। गुस्साए छात्रों का तर्क था कि जिस छात्र ने मुख्य चुनाव अधिकारी के साथ अभद्रता की उसके ऊपर पुलिस कार्रवाई करती। पुलिस ने बेकसूर छात्रों पर लाठियां भांजी।
छात्र नेताओं में इस बात पर भी आक्रोश देखा गया कि कैंपस के भीतर बिना अनुमति के अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद ने दोपहर डेढ़ बजे तक धड़ल्ले से साउंड सिस्टम का प्रयोग किया, जबकि पुलिस ने उनके ऊपर कार्रवाई नहीं की। पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के सुबह नौ बजे एनएसयूआइ के प्रदेश अध्यक्ष मोहन भंडारी के नेतृत्व में संगठन के दर्जनों कार्यकर्ता डीएवी कॉलेज पहुंचे और उन्होंने मुख्य द्वार को बंद कर दिया और प्रदेश के कॉलेजों में रिक्त शिक्षकों के पदों को नहीं भरने पर नाराजगी जताते हुए उच्च शिक्षा राज्य मंत्री के खिलाफ नारेबाजी की। करीब साढ़े 11 बजे पुलिस ने डीएवी का मुख्य गेट खोला।
गेट खुलते ही अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के कार्यकर्ता और पदाधिकारी सचिवालय कूच के लिए कॉलेज मैदान में एकत्र होना शुरू हो गए। तब तक भी कॉलेज परिसर में शांति थी, लेकिन उसके बाद सत्यम-शिवम संगठन के सदस्य और पूर्व महासचिव कपिल शर्मा किसी बात को लेकर मुख्य चुनाव अधिकारी से उलझ गए और उनसे बदसलूकी की।
फिर क्या था कॉलेज का माहौल गर्मा गया और परिसर में हंगामा खड़ा हो गया। हालात पर काबू पाने के लिए पुलिस ने भी आव देखा न ताव और लाठियां भांजनी शुरू कर दी।
सत्यम शिवम छात्र संगठन के सैंकड़ों समर्थक छात्र-छात्राएं पीले गुब्बारे एवं झंडे लेकर संगठन के वरिष्ठ नेता नरेंद्र शर्मा की अगुआई में कैंपस में दाखिले हुए और संगठन के संभावित महासचिव प्रत्याशी नीरज चैहान को कंधे पर उठाकर कॉलेज में रैली निकालने लगे। पूरे परिसर का एक राउंड पूरा करने तक तो मामला शांत था।
सीओ डालनवाला जया बलूनी फोर्स के साथ कैंपस में मौजूद थीं। इसी दौरान मुख्य नियंता कार्यालय के बाहर खड़े डीएवी कॉलेज के मुख्य चुनाव अधिकारी डॉ. गोपाल क्षेत्री व मुख्य नियंता मेजर अतुल सिंह आपस में बातचीत कर रहे थे। रैली निकाल रहे सत्यम-शिवम छात्र संगठन के पूर्व महासचिव कपिल शर्मा एकाएक मुख्य चुनाव अधिकारी से उलझ गए और उनके साथ अभद्रता करने लगे। मौके पर मौजूद पुलिस इंस्पेक्टर डालनवाला राजीव रौथाण ने कपिल को समझाने की कोशिश की, लेकिन वह नहीं माने और बदतमीजी पर उतर आए। संगठन के अन्य छात्र भी वहां पर हंगामा करने लगे। इसके बाद पुलिस ने लाठियां भांजनी शुरू कर दी। पुलिस की लाठीचार्ज से छात्र-छात्राओं की भगदड़ मच गई। पुलिस ने मुख्य नियंता कार्यालय से कॉलेज के मुख्य गेट तक जो भी छात्र देखा उस पर लाठी बरसाई। इस दौरान पुलिस कपिल शर्मा व कुछ अन्य छात्रों को पुलिस के वाहन में डालकर थाने ले गई। इस दौरान सूचना मिलते ही एसपी सिटी श्वेता चैबे भी कॉलेज पहुंचीं और उन्होंने हालात का जायजा लिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here