एनआरसी की आड़ लेकर विफलताओ को छिपाने का प्रयासःप्रीतम

0
412

देहरादून। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष प्रीतम सिंह ने राष्ट्रीय नागरिकता रजिस्टर पर सरकार के रुख पर पलटवार किया है। उन्होंने कहा कि एनआरसी की आड़ में भाजपा सरकार अपनी विफलताओं को छिपाने की कोशिश कर रही है।
मीडिया की ओर से एनआरसी को लेकर पूछे गए सवाल के जवाब में प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष प्रीतम सिंह ने कहा कि यदि कोई विदेशी रह रहा हो तो उसे निकालने का कोई भी राजनीतिक दल विरोध नहीं कर रहा है। उत्तराखंड में ऐसे मामले हैं तो सरकार को बताना चाहिए कि उसने क्या कार्रवाई की है। अब तक कितनी गिरफ्तारी हुई हैं।
पत्रकारों से बातचीत करते हुए कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि असम में एनआरसी लागू किया गया है, लेकिन वहां भाजपा के लोग ही इसके विरोध में आ गए हैं। हरियाणा में विधानसभा चुनाव नजदीक देखकर भाजपा ने एनआरसी का राग अलापना शुरू कर दिया है। उन्होंने कहा कि उत्तराखंड में भी पंचायत चुनाव की चुनौती को देखकर प्रदेश सरकार जनता का ध्यान भटकाने की कोशिश कर रही है। उत्तराखंड में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव में कांग्रेस समर्थित प्रत्याशियों को जिताने का दारोमदार संबंधित विधायक, विधानसभा चुनाव में पार्टी प्रत्याशियों और जिला इकाइयों पर होगा। ग्राम प्रधानों, ब्लॉक प्रमुखों और जिला पंचायत अध्यक्ष पदों पर समर्थित प्रत्याशियों के चयन में पार्टी ने इन्हीं की अहम भूमिका तय की है। प्रदेश में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव में कांग्रेस सीधा मुकाबला भाजपा से ही मान रही है। इसलिए पार्टी समर्थित प्रत्याशियों के चयन में आम सहमति बनाने का ही पूरा प्रयास किया जा रहा है। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष प्रीतम सिंह ने इसी फार्मूले पर ही जिला प्रभारियों को काम करने के निर्देश दिए थे। सांगठनिक जिलों में पार्टी की जिला इकाइयों के साथ ही विधायक या विधानसभा चुनाव लड़ चुके पार्टी प्रत्याशियों के साथ ही जिलों के वरिष्ठ कांग्रेस नेताओं के साथ विचार-विमर्श कर प्रभारियों ने प्रत्याशियों के चयन को लेकर रिपोर्ट तैयार की है। ये रिपोर्ट प्रदेश मुख्यालय को सौंपी जा चुकी हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here