बन्नू बिरादरी का दशहरा महोत्सव 8 अक्टूबर को

0
278

देहरादून। दशहरा कमेटी बन्नू बिरादरी 72 वां दशहरा महोत्सव आठ अक्टूबर को हर्षोल्लास के साथ मनाएगी। इसके लिए सभी तैयारियां पूरी हो चुकी है। कार्यक्रम में हंस पर सवार रावण और लंका की आतिशबाजी मुख्य आकर्षण रहेगी।
शुक्रवार को सुभाष रोड स्थित रेस्टोरेंट में आयोजित प्रेसवार्ता में कमेटी अध्यक्ष हरीश विरमानी ने बताया कि आठ अक्टूबर को परेड ग्राउंड में होने वाले दशहरे महोत्सव में सुरक्षा के लिहाज से 20 सीसीटीवी कैमरें लगाए जाएंगे। पुतला दहन के दौरान किसी भी प्रकार की अनहोनी न हो इसके लिए पुतलों के ऊंचाई कम की गई है। इस बार रावण का पुतला 62 फीट, मेघनाथ 55 फीट और कुंभकरण के 50 फीट के पुतले का दहन किया जाएगा। कहा कि इस बार बिरादरी की ओर से पर्यावरण संरक्षण का संदेश देते हुए प्लास्टिक के बैग बंद करने की अपील की जाएगी। साथ ही अगले साल दशहरा महोत्सव में पर्यावरण फ्रैंडली आतिशबाजी की जाएगी। प्रेसवार्ता में दशहरा कमेटी बन्नू प्रधान संतोख सिंह नागपाल, हरीश गेरा, पंकज कालरा, मनोज साहनी, रमेश खनीजो, दीपक ग्रोवर, प्रवेश अरोडा, संजीव विज आदि मौजूद रहे।
बिरादरी 8 अक्टूबर को अंसारी मार्ग स्थित कालिका मंदिर में विधिवत पूजा अर्चना के बाद शोभायात्रा निकालकर महोत्सव का शुभांरभ करेगी। बैंड-बाजों और भजनों की धुन पर मंदिर परिसर से शुरु शोभायात्रा मोती बाजार, पल्टन बाजार, राजपुर रोड़, एस्लेहॉल चैक होते हुए परेड ग्राउंड पहुंचेगी। शाम पांच बजे लंका दहन के बाद शाम छह बजकर पांच मिनट पर रावण के पुतले का दहन होगा। वहीं एक घंटे आतिशबाजी के बाद शोभायात्रा टेलीफोन एक्सचेंज, घटांघर, पल्टन बाजार होते हुए कालिका मंदिर में संपन्न होगी। वहीं 9अक्टूबर को भरत मिलाप प्रसंग के बाद महोत्सव संपन्न होगा।
बन्नू बिरादरी देहरादून के अध्यक्ष हरीश विरमानी ने बताया कि वर्ष 1947 में देश विभाजन के बाद पाकिस्तान के बन्नू शहर में रहने वाले बनवाल लोग दून में आकर बसे। इसके बाद 92 वर्षीय सेठ लक्ष्मण दास विरमानी ने दशहरा कमेटी का गठन कर हर साल परेड ग्रांउड में दशहरा महोत्सव मनाने का फैसला किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here