पीएम नरेंद्र मोदी की पटना रैली में बम ब्लास्ट करने वाला संदिग्ध आतंकी गिरफ्तार

0
203

पटना। वर्ष 2013 के बोधगया और पटना ब्लास्ट का एक आरोपी हैदराबाद से गिरफ्तार किया गया है। संदिग्ध सिमी आतंकी का नाम अजहरुद्दीन उर्फ केमिकल अली है। जानकारी के मुताबिक, पटना और बोधगया में हुई इन दो घटनाओं में सुरक्षा एजेंसियों को उसकी तलाश थी। बताया जा रहा है कि उसे कई दिन पहले गिरफ्तार कर लिया गया था। पटना और बोधगया ब्लास्ट मामले में अब तक 17 संदिग्‍धों की गिरफ्तारी हो चुकी है. लेकिन, अजहरुद्दीन उर्फ केमिकल अली फरार चल रहा था। उसे हैदराबाद एयरपोर्ट पर छतीसगढ़ पुलिस और एटीएस ने गिरफ्तार किया है। केमिकल अली के पास से पुलिस ने पासपोर्ट, दो ड्राइविंग लाइसेंस और मतदाता पहचान पत्र भी जब्त किया है। पटना और बोधगया ब्लास्ट मामले में अब तक 17 संदिग्‍धों की गिरफ्तारी हो चुकी है। लेकिन, अजहरुद्दीन उर्फ केमिकल अली फरार चल रहा था। उसे हैदराबाद एयरपोर्ट पर छतीसगढ़ पुलिस और एटीएस ने गिरफ्तार किया है। केमिकल अली के पास से पुलिस ने पासपोर्ट, दो ड्राइविंग लाइसेंस और मतदाता पहचान पत्र भी जब्त किया है। बिहार के बोधगया में हुए धमाके में कई तिब्बती भिक्षु और पर्यटक घायल हो गए थे। ये धमाके बौद्ध भिक्षुओं को निशाना बनाकर किए गए थे। पटना में अक्तूबर 2013 में नरेंद्र मोदी की सभा में ब्लास्ट हुआ था। इस रैली के दौरान बम ब्लास्ट में कई लोगों की जान गई थी। साल 2014 के लोकसभा चुनाव के ठीक पहले ये धमाके नरेंद्र मोदी की पटना रैली के दौरान हुए थे। पटना के गांधी मैदान में 27 अक्टूबर 2013 को नरेंद्र मोदी की हुंकार रैली थी। इस रैली में पटना के गांधी मैदान में बड़ी तादाद में लोगों की भीड़ जुटी थी। मोदी की रैली के दौरान ही पटना में जगह-जगह सीरियल धमाके हुए थे। जानकारी के मुताबिक, छह साल पहले हुई इस घटना में पांच धमाके गांधी मैदान के आसपास ही हुए थे। इसके बाद रैली में भगदड़ मच गई थी। इस रैली में जब धमाके हो रहे थे, तब आयोजकों समेत नरेंद्र मोदी ने लोगों से शांति बनाये रखने की अपील की थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here