पदोन्नति में आरक्षण के पक्ष में एससी-एसटी कर्मचारियों ने जिला मुख्यालयों में धरना

0
200

देहरादून। एससी एसटी फेडरेशन के आह्वान पर प्रदेश भर में शनिवार को कर्मचारी जिला मुख्यालयों पर धरना दिया। इसके बाद उन्होंने जिलाधिकारी के माध्यम से मुख्यमंत्री संबोधित ज्ञापन भी सौंपे। राजधानी देहरादून में शनिवार को कर्मचारी परेड ग्राउंड जुटे। जहां उन्होंने धरना दिया। इसके बाद प्रदर्शनकारियों ने जिलाधिकारी को ज्ञापन सौंपा।
फेडरेशन के प्रदेश अध्यक्ष करम राम ने सभी कर्मचारियों से धरना स्थल पर एकत्रित होने का अनुरोध किया है। उन्होंने कहा कि यहां धरना देने के बाद फेडरेशन की ओर से जिलाधिकारी के माध्यम से सीएम को ज्ञापन भेजेंगे।
उन्होंने कहा कि पिछले दिनों फेडरेशन ने प्रमोशन में आरक्षण और सीधी भर्ती के आरक्षण रोस्टर को लेकर चरणबद्ध आंदोलन का एलान किया था। शनिवार से इसकी शुरुआत हो हो गयी। उनके मुताबिक, फेडरेशन छह सूत्रीय मांगों को लेकर आंदोलन कर रहा है। फेडरेशन की मांग है कि यदि सरकार सुप्रीम कोर्ट के अंतिम फैसले के अधीन प्रमोशन पर लगी रोक हटाती है। तो यह तभी मान्य होगा जब सरकार रोस्टर अनुसार डीपीसी करेगी।
इसके अलावा जब तक मदन कौशिक की अध्यक्षता में बनी कमेटी की अपनी रिपोर्ट फाइनल नहीं करती, तब तक सीधी भर्ती के पद वर्ष 2001 के आरक्षण रोस्टर के हिसाब से भरे जाएं। सरकारी नौकरियों में ओबीसी के आरक्षण को 14 फीसदी से बढ़ाकर 27 फीसदी किया जाए और पदोन्नति में भी आरक्षण दिया जाए। सरकार आरक्षण प्रदान नहीं करेगी, तो समाज को धर्म परिवर्तन करने पर विचार करना होगा। राज्य के विभिन्न विभागों में खाली बैकलॉग के पद तत्काल भरे जाएं। इसके अलावा संविदा और आउटसोर्स की भर्तियां भी आरक्षण की अनुपालना हो।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here