पिता को तीन महीने के बेटे पर भी नहीं आया तरस, सिर में मारी गोली

0
154

रूद्रपुर। कर्ज के कारण पिता इतना परेशान हो गया कि उसने तंग आकर अपने तीन महीने के बेटे की ही जान ले ली। उसने घर में ही अपनी पिस्टल से बेटे के सिर में गोली मार दी। वो इतना बेरहम हो सकता है ये किसी ने सोचा नहीं था। गोली लगने के बाद मासूम की हालत देख हर कोई सन्न रह गया। गुरुवार शाम उत्तराखंड के रुद्रपुर से सटे यूपी के बिलासपुर थाना क्षेत्र में एक व्यापारी प्रदीप (28) ने अपनी पत्नी प्रीति (25) और तीन महीने के मासूम बेटे सचिन की गोली मारकर हत्या कर दी थी। इसके बाद उसने खुद को भी गोली मार ली। दंपती के अलावा तीन माह के मासूम की मौत ने लोगों को अंदर तक झकझोर दिया। जिसने भी यह मंजर देखा उसकी आंखों से आंसू छलक पड़े। लोगों का कहना था कि जिस मासूम ने तीन महीने पहले ही दुनिया में कदम रखा था, उसकी क्या गलती थी। मासूम के सिर पर भी गोली मारी गई थी। उनका कहना था कि कर्ज के तनाव ने तीन जिंदगी लील ली। लोगों को जब इसकी जानकारी मिली तो उन्होंने किसी तरह से गेट खोला और अंदर गए। वहां बहु, बेटे और पोते का शव देख सबकी आंखे भर आई। उस वक्त सचिव की सांसे चल रही थी। लेकिन अस्पताल ले जाने से पहले ही उसने दम तोड़ दिया। पुलिस ने बताया कि कर्ज चुकाने के लिए प्रदीप ने 22 दिन पहले दुकान से लूट की झूठी कहानी गढ़ी थी, लेकिन रुद्रपुर पुलिस की तीन घंटे की जांच के बाद प्रदीप ने वारदात फर्जी होने की बात स्वीकारी थी। बताया जा रहा है कि प्रदीप पर कई लोगों की देनदारी थी। देनदारी के साथ ही ब्याज बढ़ने से प्रदीप काफी तनाव में था। पहली बार कर्ज से बचने का कदम सही साबित नहीं हुआ तो अगला कदम आत्मघाती उठा लिया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here