कैदी ने न्यायिक भ्रष्टाचार के खिलाफ उठाई आवाज, शुरू की भूख हड़ताल

0
175

नैनीताल। शहर की जेल में बंद एक कैदी ने न्यायिक भ्रष्टाचार के खिलाफ भूख हड़ताल शुरू कर दी है। वहीं, कैदी का कहना है कि जब तक उसके साथ न्याय नहीं किया जाएगा वो लगातार अपनी भूख हड़ताल को ऐसे ही जारी रखेगा. वहीं, इस संबंध में उसने मुख्य न्यायाधीश को पत्र भी लिखा है।
दरअसल, नैनीताल जेल में एक कैदी काफी दिनों से बंद है और उसने वर्तमान में भूख हड़ताल शुरू करदी है। उसने नैनीताल हाईकोर्ट के मुख्य न्यायाधीश सहित मानवाधिकार आयोग को एक पत्र लिखा है। जिसके जरिए उस कैदी ने अपने साथ हो रहे उत्पीड़न के खिलाफ गुहार लगाई है। बताया जा रहा है कि उस कैदी का नाम कैलाश है, जिसने पत्र के माध्यम से बताया है कि उसे बगैर समन जारी किए कोर्ट में गैरहाजिर दिखाकर पुलिस ने गिरफ्तार किया है, जिसको लेकर उसने भूख हड़ताल शुरू कर दी है। जानकारी के अनुसार रामनगर निवासी कैलाश खुल्बे को निचली अदालत ने 3 महीने की सजा सुनाई थी और कोर्ट ने उस पर भरण-पोषण का जुर्माना भी लगाया था। उधर, कोर्ट के इस आदेश को उसने उत्पीड़न बताते हुए भूख हड़ताल शुरू कर दी। कैलाश का कहना है कि जब तक उनके साथ न्याय नहीं होगा वो ऐसे ही भूख हड़ताल जारी रखेगा। वहीं, पत्र में उसने मुख्य न्यायाधीश से जल्द से जल्द रिहा करने की भी मांग की है। उधर, कैदी कैलाश के जेल परिसर में भूख हड़ताल पर बैठने के बाद से जिला और जेल प्रशासन में हड़कंप मचा हुआ है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here