निर्भया के दादा से बदसलूकी, कहा- दिल्ली क्यों भेजा था?

0
119

बलिया। निर्भया के दादा से बलिया के चीफ मेडिकल ऑफिसर (सीएमओ) का बदसलूकी का मामला सामने आया है। इतना ही नहीं, सीएमओ ने निर्भया पर भी अभद्र बयान दिया है। दरअसल, निर्भया के पैतृक गांव उत्तर प्रदेश के बलिया जिले में उसके नाम पर अस्पताल खुला था। लेकिन अस्पताल में डॉक्टरों और मूलभूत सुविधाओं की कमी को लेकर निर्भया के परिजन धरने पर बैठे थे। इसी दौरान जब बलिया सीएमओ मौके पर पहुंचे तो उन्होंने परिजनों से बदसलूकी की और गांव वालों पर भी अभद्र टिप्पणी की।
सीएमओ ने कहा, श्इस गांव में आजतक किसी ने डॉक्टरी तो पढ़ी नहीं और इन्हें डॉक्टर चाहिए। पहले इस गांव में कोई मेडिकल साइंस पढ़े फिर इसी अस्पताल में डॉक्टर बन जाए।श् सीएमओ इतने पर भी नहीं रुके। उन्होंने कहा, श्इस गांव ने डॉक्टर तो बनाया नहीं तो अस्पताल क्यों खुलवाया। हम कहां से डॉक्टर लाएं। जितने पद हैं, उतने डॉक्टर ही पैदा नहीं होते। अस्पताल हमने नहीं बनवाया। जिसने बनवाया उससे मांगे।श्सीएमओ ने निर्भया के दादा और गांव वालों के बाद निर्भया को भी नहीं छोड़ा। सात साल पहले जिस निर्भया के साथ हुई घटना से देश उबल पड़ा था, उस निर्भया पर भी अभद्र टिप्पणी करने से सीएमओ बाज नहीं आए। जब निर्भया के दादा ने अपने पोती का जिक्र किया तो सीएमओ ने कहा, श्कौन है निर्भया? अगर वह डॉक्टरी पढ़ रही थी तो दिल्ली क्यों गई? निर्भया के सपनों को पूरा करने के लिए तत्कालीन मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने उसके पैतृक गांव में अस्पताल बनवाया था। बताया जा रहा है कि इस अस्पताल में अभी तक डॉक्टर और नर्स की तैनाती नहीं हुई है। इसी को लेकर निर्भया के दादा परिवार और गांव के अन्य सदस्यों के साथ धरना पर बैठे थे। इसी दौरान सीएमओ ने उनके साथ बदसलूकी की और अपमानित किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here