देहरादून। सोशल मीडिया में प्रदेश के उच्च शिक्षा राज्य मंत्री डॉ. धन सिंह रावत को उत्तराखंड का कार्यवाहक मुख्यमंत्री के रूप में नियुक्घ्त करने की चर्चाओं का स्वयं उच्च शिक्षा राज्य मंत्री डॉ. धन सिंह रावत ने खंडन किया है। उन्होंने फेसबुक पोस्घ्ट के माध्यम से इसे असामाजिक तत्वों द्वारा सोशल मीडिया पर की गई बेहद निंदनीय हरकत बताया है।
गौरतलब है कि शुक्रवार को हुई कैबिनेट बैठक में शामिल पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज के कोरोना पॉजिटिव आने के बाद मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत और तीन मंत्री मदन कौशिक, हरक सिंह रावत व सुबोध उनियाल ने अपने आप को एतिहातन सेल्फ क्वारंटाइन कर लिया है। इसबीच किसी असामाजिक तत्व ने सोशल मीडिया में उच्च शिक्षा राज्य मंत्री डॉ. धन सिंह रावत को उत्तराखंड का कार्यवाहक मुख्यमंत्री नियुक्घ्त करने के लेकर पोस्ट डाल दी जिसके बाद सोशल मीडिया में इसको लेकर चर्चाओं का बाजार गरम हो गया। जिसके बाद डॉ. धन सिंह रावत को इस खबर का खंडन करने के लिए स्वयं सोशल मीडिया में कूदना पड़ा। उन्होंने इसका खंडन करते हुए अपने फेसबुक पेज पर लिखा कि मुझे यह सूचना प्राप्त हुई है कि कुछ असामाजिक तत्वों द्वारा सोशल मीडिया पर मुझे कार्यवाहक मुख्यमंत्री के रूप में दर्शाया जा रहा है जोकि बिल्कुल ही गलत है और बेहद ही निंदनीय है। मैं ऐसे लोगों की कड़े शब्दों में निंदा करता हूं और ऐसे लोगों के खिलाफ मेरे द्वारा पुलिस प्रशासन को कड़ी कार्रवाई करने के निर्देश दिए गए हैं। आप सभी लोगों को मैं कहना चाहता हूं कि भले ही मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत जी सेल्फ क्वॉरेंटाइन है लेकिन वैश्विक महामारी कोरोना के इस कठिन दौर में निरंतर  मुख्यमंत्री जी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग तथा फोन के माध्यम से सभी त्रीगणों, विधायकगणों और उच्चाधिकारियों से संपर्क कर आवश्यक दिशानिर्देश दे रहे हैं ताकि हमारा प्रदेश इस वैश्विक महामारी से जल्द से जल्द ठीक हो सके। मैं सभी सोशल मीडिया के मित्रों से अनुरोध करना चाहूंगा कि कृपया इस गलत खबर को सत्य ना माने।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here