विश्व का सबसे बड़ा मास्क बनाने का अभियान पहूंचा देहरादून

0
177

सबसे बड़ा मास्क बनाने के लिए 10 राज्यों से सौ वर्ग मीटर कपड़ा इकट्ठा किया जायेगा- मनीष त्रिपाठी
देहरादून। दीनदयाल अंत्योदय योजना-राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिशन देहरादून शाखा ने फैशन डिजाइनर मनीष त्रिपाठी के साथ मिलकर आॅर्डनेंस फैक्टरी के समीप अंकुर विद्या स्कूल में विश्व का सबसे बड़ा मास्क लांच किया। विश्व का सबसे बड़ा मास्क को बनाने के लिए देशभर से सौ वर्ग मीटर कपड़ा इकट्ठा किया जा रहा है। जिसके लिए 10 राज्यों में 10 हजार किलोमीटर की यात्रा की जाएगी। इसकी शुरूआत एक दिसंबर को नई दिल्ली जिला मजिस्ट्रेट कार्यालय से शुरू हुई जो शुक्रवार को देहरादून पहुंचा। देहरादून में फैशन डिजाइनर मनीष त्रिपाठी एवं शहरी विकास निदेशालय के स्टेट मिशन मैनेजर लक्ष्मण सिंह एवं वन्दना सौल्युशंस के वन्दना शर्मा ने दीनदयाल अंत्योदय योजना-राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिशन में भाग लिया। इस दौरान 50 महिला कारीगरों ने मनीष त्रिपाठी को विश्व का सबसे बड़ा मास्क बनाने के लिए कपड़ा भेंट किया। इस मुहिम में देहरादून के वन्दना सौल्युशंस के 50 महिला कारिगर भी विश्व का सबसे बड़ा मास्क बनाने के अभियान का हिस्सा बनी है।
विश्व का सबसे बड़ा एवं अपने तरह का पहला मास्क की शुरूआत दिल्ली की 104 सेल्फ हेल्प ग्रुप के संयुक्त प्रयास का परिणाम है। दिल्ली के बाद यह मास्क देहरादून होते हुए 8 अन्य राज्यों से गुजरेगा, जहां इसका आकार निरन्तर बड़ा होता जाएगा। अंत में यह विश्व के सबसे बड़े मास्क का आकार ले लेगा। इन सभी कपड़ों को मिलाकर विश्व के सबसे बड़े मास्क का निर्माण किया जाएगा जिसे बाद में नई दिल्ली पहुंचने पर माननीय राष्ट्रपति द्वारा लॉन्च किया जाएगा।
विश्व का सबसे बड़ा मास्क बनाने का यह प्रयास दिल्ली के फैशन डिजाइनर मनीष त्रिपाठी के वर्तमान समय में चल रहे शहर से गांव तक कार्यक्रम का एक हिस्सा है जो कि कोविड-19 की शुरुआत के दिनों से ही उनके साथ काम कर रही महिला कारीगरों के प्रति भी सम्मान का एक प्रतीक है। इस अवसर फैशन डिजाइनर मनीष त्रिपाठी ने कहा कि ग्रामीण महिलाओं की सहायता का यह प्रयास एक ओर जहां आत्मनिर्भर भारत की ओर बढ़ रहे कदमों को और मजबूती प्रदान करने की दिशा में किया गया एक महती प्रयास है वहीं कोरोना से बचाव के लिए लोगों को मास्क पहनने के प्रति जागरूक करना भी है। उन्होंने महिला कारीगरों को एक सर्टिफिकेट और इस कार्यक्रम स्वच्छता सहयोगी एनआईआईएनई की ओर से सैनिटरी नैपकिन्स पैक भी भेंट किये।
इस मौके पर राजीव पाण्डे असिस्टेंट डायेक्टर शहरी विकास निदेशालय, वंदना शर्मा चैयरमैन वंदना सोल्यूशंन, स्वदेश कुटुम्ब समूह, अंजना सिंह, निर्मला पाल, सुमन चैकर, इंद्रिरावती, संगीता रानी सहित कई महिला कारीगर मौजूद रही।