रेलवे ट्रैक पर हाथियों की सुरक्षा के लिए उठाए गए कदम

0
122

देहरादून। हर साल रेलवे ट्रैक पर आने से कई हाथियों की मौत हो जाती है। जिससे बचने के लिए वन महकमे ने कमर कस ली है। राजधानी देहरादून के लच्छीवाला वन क्षेत्र में पिछले दिनों एक हाथी की मौत के बाद अब वन महकमा एक बार फिर इस क्षेत्र में हाथियों को बचाने की जद्दोजहद में जुट गया है। इस दिशा में क्षेत्र में चैकी स्थापित करने समेत ट्रेन की रफ्तार को भी कम रखने जैसे बिंदुओं पर विचार किया जा रहा है।
देहरादून के लच्छीवाला क्षेत्र में हाथियों की अच्छी खासी संख्या है। रेलवे ट्रैक होने के चलते कई बार हाथी ट्रैक से रास्ता पार करते वक्त अपनी जान भी गंवा बैठते हैं। कुछ दिन पहले ही हाथी के एक बच्चे की ऐसी एक दुर्घटना में मौत हो गई थी। इससे पहले भी यहां हाथी कई दुर्घटनाओं का शिकार हो चुके हैं। देहरादून वन विभाग ऐसी दुर्घटनाओं को लेकर गंभीरता दिखाते हुए अब इस क्षेत्र में विशेष चैकसी बरतने लगा है।
इस कड़ी में लच्छीवाला क्षेत्र में ही अतिरिक्त स्टाफ की तैनाती के साथ 2 चैकियां स्थापित करने पर विचार किया जा रहा है। यही नहीं रेलवे के अधिकारियों से भी बात की गई है ताकि राजाजी नेशनल पार्क की तरह ही इस क्षेत्र में भी ट्रेन की गति को सीमित रखा जा सके। गौर हो कि नकरौंदा से लच्छीवाला तक करीब यह 3 से 4 किलोमीटर का क्षेत्र है जहां रेलवे ट्रैक पर हाथियों का विचरण लगातार बना रहता है।